नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट द्वारा अरुणाचल प्रदेश में कांग्रेस सरकार बहाल करने के फैसले का कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने स्वागत किया और आशा व्यक्त की कि केंद्र सरकार इससे सबक लेगी और आगे सत्ता के दुरुपयोग से बाज आएगी. सोनिया ने आशा व्यक्त की है कि इस फैसले से हमारे संविधान में निहित लोकतांत्रिक मूल्य स्थापित होंगे.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
उन्होंने कहा, “इस फैसले के बाद केंद्र सरकार अब सत्ता का किसी भी तरह का दुरुपयोग करने से बाज आएगी. जिन लोगों ने देश के संवैधानिक सर्वोच्चता और लोकतांत्रिक नियमों को कुचलने की कोशिश की, उनकी हार हुई.
 
 
सोनिया ने आगे अरुणाचल प्रदेश के लोगों को बधाई देते हुए कहा, “हमें देश के संघीय ढांचे की रक्षा करने और लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए अपनी लड़ाई जारी रखनी होगी. सोनिया की यह टिप्पणी सुप्रीम कोर्ट द्वारा अपदस्थ नबाम तुकी सरकार को बहाल करने के बाद आया है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की संविधान पीठ ने अपने एक सर्वसम्मत और अभूतपूर्व फैसले में अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल के उन सभी फैसलों को रद्द घोषित कर दिया, जिसके माध्यम से राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया गया था. कोर्ट ने साथ ही 15 दिसंबर, 2015 की स्थिति को बहाल करते हुए वहां पूर्व की कांग्रेस सरकार को स्थापित कर दिया.