नई दिल्ली. भूत-प्रेत के मकड़जाल से लोगों को बचाने वाले गौरव तिवारी की मौत एक पहेली बन गई है. मामले की जांच कर रही पुलिस टीम को शक है कि गौरव ने द्वारका में अपने फ्लैट में बने हुक में लटक कर अपनी जान दे दी. घरवालों का कहना है कि उन्हें गौरव बाथरूम के बाहर बेसुध हालत में पड़ा मिला. पुलिस ने पूरे मामले की जांच के लिए एक्सपर्ट डॉक्टर्स की टीम मौके पर भेज दी है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
निजी जिंदगी में चल रहा था प्रेम प्रसंग
 
गौरव की मौत को लेकर एक और बात भी सामने आ रही है कि उसकी निजी जिंदगी में उसका किसी लड़की से प्रेम प्रसंग भी चल रहा था. जिसको लेकर उसकी पत्नी के साथ गौरव की काफी बहस भी होती थी. 
 
परिवार वाले बदल रहे हैं बयान: पुलिस
 
दिल्ली पुलिस का कहना है कि गौरव की मौत को लेकर उसके परिवार वाले बार बार बयान भी बदल रहे हैं. कुछ बात छिपाने की भी कोशिश की जा रही है. पुलिस ने कहा, ‘मामले में घरवालों से पूछताछ जारी है. अभी गौरव की मौत के बारे में घरवाले साफ-साफ नहीं बता पा रहे हैं.’
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि 7 जुलाई को गौरव की मौत हो गई थी. गौरव ने अमेरिका से पैरानॉर्मल एक्‍टिविटी का कोर्स किया था. वह अलग-अलग उपकरणों से ऐसी जगहों की जांच पड़ताल करते थे जहां भूतों का साया बताया जाता था. उनके पास इस काम में मदद के लिए युवाओं की एक पूरी टीम थी. उन्होंने दुनिया का सबसे बड़ा हॉरर शो ‘हॉन्टेड ऑस्‍ट्रेलिया’ भी आयोजित किया था.