श्रीनगर. कश्मीर घाटी में बिगड़े हालात को देखते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को हाई लेवल बैठक बुलाई है. इस बैठक में कश्मीर हिंसा की ताजा स्थि‍ति के साथ ही आगे हालात को बेहतर बनाने पर चर्चा की गई. इस बीच राजनाथ सिंह ने कश्मीर हिंसा को लेकर यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला से भी बात की है. इस बात की जानकारी उमर अबदुल्ला ने ट्वीट कर दी है.

 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सोनिया गांधी का बयान
वहीं दूसरी ओर सोनिया गांधी ने मामले में ट्वीटर पर एक संदेश जारी करते हुए कहा है कि यह बड़े दुख की बात है कि पिछले कुछ दिनों में कश्मीर में निर्दोष लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है और हमें आतंकवाद का सामना पूरी ताकत के साथ करना होगा. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर कोई समझौता नहीं हो सकता.

 
इससे पहले रविवार को भी केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्य के हालात पर उच्च स्तरीय बैठक बुलाई थी. इसके अलावा राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से बात करके स्थिति से निपटने के लिए उन्हें हरसंभव केंद्रीय सहायता देने का आश्वासन दिया भी दिया था.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
क्या है पूरा मामला
आतंकी सगंठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर बुरहान वानी जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एनकाउंटर में मारे जाने के बाद श्रीनगर में अलगावादियों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. इस विरोध प्रदर्शन में सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प में 24 लोगों की मौत हो गई है और 100 जवानों समेत 300 से ज्यादा जख्मी हो गए हैं. वहीं, स्थिति को काबू में करने के लिए महबूबा सरकार ने एक मीटिंग भी की थी. इसके साथ ही लोगों से शांति बनाए रखने की अपील भी की गई थी.