नई दिल्ली. दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन ऑफिसर द्वारा एक मणिपुरी युवती के साथ नस्लीय टिप्पणी करने का मामला सामने आया है. यह मामला उस वक्त सामने आया जब मोनिका खांगेमबम नाम की इस युवती ने ऑफिसर की टिप्पणी को अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, जो वायरल हो गया. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सुषमा स्वराज ने मांगी माफी
इस बीच घटना की जानकारी मिलने के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा, ‘मोनिका- इसके लिए मैं माफी चाहती हूं. इमिग्रेशन मेरे पास नहीं है.’ उन्होंने यह भी कहा कि वे इस मामले पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह से बात करेंगी, जिनके पास इमिग्रेशन विभाग है.
 
क्या लिखा है पोस्ट में?
मोनिका ने फेसबुक पोस्ट के जरिए बताया कि उनके साथ यह घटना शनिवार को आईजीआई एयरपोर्ट के टी-3 टर्मिनल पर हुई. बतौर मोनिका, जब वे इमिग्रेशन डेस्क पर पहुंचीं तो उनसे इमिग्रेशन ऑफिसर ने पूछा- पक्का इंडियन हो? फिर ऑफिसर ने उससे पूछा कि देश में कितने राज्य हैं? मणिपुर से किन-किन राज्यों की सीमा लगी है?’ मोनिका ने बताया है कि इस दौरान वह हंसी का पात्र थीं, क्योंकि दूसरे काउंटर पर खड़ी महिला हंस रही थी.

 
मोनिका के पोस्ट के अनुसार उसने अफसर से कहा भी कि वह लेट हो रही हैं, उसे जाने दिया जाए. इसके जवाब में अफसर ने कहा कि एयरक्राफ्ट आपको छोड़कर कहीं नहीं जा रहा है, आराम से जवाब दीजिए.

 
करीब 2 हजार Like
बता दें कि मोनिका के इस पोस्ट को अब तक करीब दो हजार से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं. इतना ही नहीं, करीब 500 से ज्यादा लोग इसे शेयर भी कर चुके हैं