कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के प्रांत प्रचारकों का तीन दिन का ट्रेनिंग शिविर शुरू हो रहा है. बताया जा रहा है ये शिविर उत्तर प्रदेश सहित चार राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों पर चर्चा की जा सकती है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सूत्रों के मुताबिक प्रांत प्रचारकों की इस बैठक का मुख्य उद्देश्य संघ की नीतियों पर चर्चा करना तो है ही, लेकिन साथ ही साथ उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव पर भी विस्तार से चर्चा की जाएगी. 
 
बता दें कि संघ प्रमुख मोहन भागवत और सर कार्यवाह भैय्या जी जोशी समेत करीब 41 प्रांतों के प्रांत प्रचारक कानपुर पहुंच चुके हैं. यह बैठक सोमवार 11 जुलाई से 15 जुलाई तक चलेगी. इस बैठक का आयोजन शहर के बाहर बिठूर में एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज कैम्पस में किया गया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक बैठक में कैराना और मुजफ्फरनगर के मामलों पर भी चर्चा होनी तय दिख रही है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
संघ अपने इस बैठक में सामान्य नागरिक संहिता को लेकर भी चर्चा करेगा. सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार को इस दिशा में बिल लाकर देश के नागरिकों के लिए एक कानून व्यवस्था को लागू करने के लिए भी कहा जाएगा.