नई दिल्ली. आतंकी सगंठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर बुरहान वानी जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एनकाउंटर में मारे जाने के बाद कश्मीर में स्थिती बहुत तनाव पूर्ण हो गई है. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को जम्मू-कश्मीर में आंतरिक सुरक्षा और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से हाईलेवल बैठक बुलाई है. 
 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस बैठक में गृह सचिव, संयुक्त सचिव (कश्मीर डिविजन), आईबी चीफ और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं. वहीं रविवार को राजनाथ सिंह का जन्मदिन भी है लेकिन कश्मीर में हुई मौतों के बाद उन्होंने इसे नहीं मनाने का फैसला किया है.
 
 
शांति की अपील की
राजनाथ ने एक बयान में कहा कि मैं जम्मू-कश्मीर के लोगों से शांत रहने और शांति बरकरार रखने की अपील करता हूं. हम कश्मीर घाटी में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए केंद्र जम्मू-कश्मीर सरकार के साथ मिलकर काम करेगा.
 
 
बता दें बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर में प्रदर्शनकारियों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. इस विरोध प्रदर्शन में सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प में 12 लोगों की मौत हो गई है और 200 से ज्यादा जख्मी हो गए हैं. जम्मू-कश्मीर की पुलिस ने बताया कि इस झड़प में सुरक्षा बलों के 96 जवान भी घायल हो गए हैं. हिंसक भीड़ ने पांच जवानों में आग लगा दी, जिनमें तीन पुलिस प्रतिष्ठान हैं. इसके अलावा कुछ गाडियों को भी आग के हवाले किए जाने की सूचना है.