मथुरा. स्पेनिश ट्रेन टैल्गो का शनिवार को मथुरा से पलवल स्टेशन के बीच दूसरे चरण का परीक्षण 180 किलोमीटर प्रति घंटा की गति के साथ शुरू हुआ. इससे पहले पिछले महीने बरेली और मुरादाबाद स्टेशनों के बीच परिक्षण किया गया था. जिसमें ट्रेन की गति 80 से 115 किलोमीटर प्रति घंटा के बीच थी. भारत ने यह ट्रेन स्पेन से खरीदी है. बता दें कि परिक्षण के दौरान ट्रेन में स्पेन और रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी सवार थे. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
परीक्षण दल में शामिल एक वरिष्ठ रेल अधिकारी ने कहा कि ट्रेन में नौ डिब्बे हैं और यह यात्रा दोपहर में 12 बजकर 40 मिनट पर मथुरा से शुरू हुई और दोपहर एक बजकर 33 मिनट पर पलवल पहुंची. ट्रेन ने 84 किलोमीटर की दूरी 53 मिनट में पूरी की.
 
उन्होंने बताया कि टैल्गो डिब्बे हल्के हैं और इसे इस तरह डिजाइन किया गया है कि यह मोड़ पर भी रफ्तार कम किये बिना दौड़ सकती है. उन्होंने कहा कि मथुरा और पलवल के बीच परीक्षण 25 दिनों तक चलेगा और इस बार गति बढ़ाकर 180 किलोमीटर तक ले जायी जाएगी. 
 
ट्रेन की खासियत
ट्रेन की सीटें विमान की तरह बनाई गई हैं. इसमें हर यात्री के लिए टेबल, रीडिंग लाइट ऑडियो एंटरटेंमेंट करने जैसी सारी सुविधाएं उपलब्ध है.
 
टैल्गो ट्रेन के हर कोच में नहाने की व्यवस्था और रेस्टोरेंट भी उपलब्ध है.
 
ट्रेन के कोच पूरी तरह से हाईस्पीड में चलने के लिय बनाए गए हैं. इनका वजन बहुत कम है, जिससे मुड़ते समय स्पीड को कम करना जरूरी नहीं है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
ट्रेन में 4500 एचपी का डीजल इंजन लगा हुआ है और इसके डिब्बे हल्के और इस प्रकार बनाए गए हैं कि यह घुमावदार रास्ते पर भी बिना गति कम किए चल सकती है.