नई दिल्ली. मोदी कैबिनेट में नए मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री बने महेंद्र नाथ पांडेय का कहना है कि शिक्षा से लोगों का विकास हो, यही उनकी प्राथमिकता है. उन्होंने यह बात इंडिया न्यूज़ को दिए अपने एक इंटरव्यू में कही है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
महेंद्र नाथ पांडेय से जब शिक्षा मंत्रालय की प्राथमिकता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘शिक्षा की ऐसी नीति बनाई जाएगी, जो लोगों के विकास में सहायक होगी. यही हमारी मूल प्राथमिकता है.’
 
 
वहीं पर्यावरण मंत्री से मानव संसाधन विकास मंत्री बने प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाने के लिए उनका मंत्रालय काम करेगा. उन्होंने कहा, ‘हम लोगों से बात करेंगे, शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाने के लिए कदम उठाए जाएंगे.’
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल हुआ है जिसमें महेंद्र नाथ पांडेय को शिक्षा राज्य मंत्री का पद दिया गया है. वहीं स्मृति ईरानी से केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय छिन लिया और उन्हें केंद्रीय कपड़ा मंत्रालय सौंपा गया है. मानव संसाधन मंत्रालय का भार प्रकाश जावड़ेकर को सौंपा गया है और वे देश के नए शित्रा मंत्री होंगे. वहीं रविशंकर प्रसाद को केंद्रीय कानून मंत्री बनाया गया है. साथ ही वित्त मंत्री अरुण जेटली से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार वापस ले लिया गया है.