अमृतसर. आम आदमी पार्टी (AAP) के एक और नेता आशीष खेतान के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने को लेकर अमृतसर में केस दर्ज किया गया है. इस बात की पुष्टि करते हुए एडिशनल डिप्टी कमीश्नर ने कहा कि उन्होंने बीती रात ऑल इंडिया सिख एसोसिएशन द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर आशीष खेतान के खिलाफ मामला दर्ज किया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
क्या है मामला?
बता दें कि रविवार को अमृतसर में केजरीवाल की मौजूदगी में पार्टी ने पंजाब के लिए घोषणापत्र जारी किया था. इस दौरान आम आदमी पार्टी के नेता आशीष खेतान ने कहा था कि पंजाब के लोगों को इस घोषणा पत्र पर उतना ही यकीन करना चाहिए जितना वो गुरुग्रंथ साहिब पर करते हैं. जिसके बाद से घोषणापत्र की तुलना गुरुग्रंथ साहिब से करने को लेकर अकाली गुस्से में हैं. 
 
 
वहीं दूसरी ओर घोषणापत्र पर हरमिंदर साहिब के साथ झाड़ू की तस्वीर लगाए जाने पर सियासी बखेड़ा खड़ा हो गया. अकाली दल ने इसे सिखों और उनकी आस्था का अपमान बताया और जगह-जगह आम आदमी पार्टी के खिलाफ प्रदर्शन भी किया है.
 
मामले पर खेतान ने मांगी थी माफी
हालांकि मंगलवार को खेतान ने अपने बयान को लेकर माफी मांगते हुए कहा था कि उनका इरादा किसी भी वर्ग, समुदाय और व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुंचानें का नहीं था. साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि भविष्य में पार्टी के घोषणापत्र पर हरमिंदर साहब की तस्वीर के साथ पार्टी चिन्ह झाडू वाले कपरपेज को भी बदला जाएगा.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि इससे पहले महरौली के आप विधायक दिनेश यादव पहले ही इसी तरह के एक मामले में फंसे हुए हैं. यादव पर आरोप है कि उन्होंने एक शख्स को मटेरकोटला में एक धार्मिक ग्रंथ के पन्ने फाड़ने को कहा ताकि इसका चुनाव में फायदा उठाया जा सके. हालांकि पार्टी और यादव ने इसे पूरी तरह झूठा करार दिया है. पंजाब पुलिस इसकी जांच कर रही है.