नई दिल्ली. केजरीवाल सरकार के प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार को पटियाला हाउस कोर्ट ने 5 दिन की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) रिमांड पर भेज दिया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक सीबीआई ने 10 दिन की रिमांड की मांग की थी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल राजेंद्र कुमार पर 50 करोड़ के भ्रष्टाचार का आरोप है जिसमें उन्होंने सरकारी ठेके देने में गड़बड़ी की थी. सीबीआई ने राजेंद्र को सोमवार को गिरफ्तार किया था. 
 
Also read:
 
क्यों हुई है कार्रवाई
आशीष जोशी ने ही केजरीवाल के प्रिंसिपल सेक्रेट्री राजेंद्र कुमार की शिकायत की थी. इसके बाद ही दिल्ली सचिवालय स्थित सीएम कार्यालय पर सीबीआई द्वारा छापेमारी की गई. राजेंद्र पर आरोप है कि उन्होंने अपने पद का दुरूपयोग कर कुछ ख़ास कंपनियों को ही सारे सरकारी ठेके दे दिए.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
जोशी ने आप सरकार पर कई आरोप लगाए. जोशी का कहना है कि सरकार अपने अंदर ही व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही. उन्होंने जुलाई में शिकायत दी जिसमें आरोप लगाया गया कि राजेंद्र कुमार ने टेंडर के बिना ठेके हासिल करने के लिए अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक कंपनी बनाई है जिससे सरकार को खासा नुकसान हो रहा है.