नई दिल्ली. बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन केंद्र सरकार के महत्वकांक्षी ‘स्वच्छ भारत अभियान’ का चेहरा बन सकते हैं. केंद्र ने अमिताभ को पत्र लिखकर इस अभियान के लिए अपनी आवाज और पहचान देने की बात कही है. बता दें कि अमिताभ की तरफ से अभी तक कोई जवाब नहीं आया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

 
शहरी विकास मंत्रालय के एक अधिकारी का कहना है कि 20 जून को अमिताभ को पत्र लिख कर उनकी आवाज और पहचान देने के साथ-साथ अभियान के एक विशिष्ट हिस्से का प्रचार करने में सहयोग देने को कहा गया है. और अब सरकार अमिताभ के जवाब की प्रतिक्षा कर रही है.
 
स्वच्छ भारत अभियान के निदेशक प्रवीण प्रकाश के पत्र के मुताबिक सरकार जैव अपशिष्टों को खाद में बदलने को बढ़ावा देने के लिए अपने प्रयास तेज कर रही है, ताकि इसका इस्तेमाल उर्वरक के रूप में किया जा सके और कचरे को भराव स्थलों तक ले जाने की प्रक्रिया को कम किया जा सके.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि इससे पहले यह खबर थी कि अमिताभ को अतुल्य भारत का भी चेहरा बनाया जा सकता है. पहले अभिनेता आमिर खान इसका चेहरा हुआ करते थे, लेकिन असहिष्णुता वाले बयान की वजह से वह इससे अलग हो गए.