नई दिल्ली. मोदी सरकार के आने के बाद लगातार दूसरी बार विदेशों में जमा काले धन में कमी आई है. स्विस बैंक में भारतीयों की जमा राशि में 33 फीसदी की कमी रिकॉर्ड की गई है. दूसरी तरह पाकिस्तानियों द्वारा स्विस बैंक में जमा पूंजी में 16 फीसदी की बढ़ोतरी आई है. स्‍विस नेशनल बैंक के ताजा आंकड़ों के अनुसार भारतीयों द्वारा बैंक में रखे धन में सीएचएफ 596.43 मिलियन से लेकर सीएचएफ 1217.6 मिलियन तक साल 2015 में कमी देखी गई.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मोदी  सरकार की काला धन लाने की कोशिशें रंग लाती दिख रही हैं. स्विस बैंकों में  भारतीयों का जमा धन अब तक के निचले स्तर पर आ गया है. इसमें 33 फीसदी की कमी रिकॉर्ड की गई है. अब भारतीयों का स्विस बैंकों में केवल 8392 करोड़ रुपए (1.2 अरब फ्रैंक ) ही बाकी रह गए हैं. स्विस बैंकों में 2015 के आखिर तक भारतीयों के जमा 121.76 करोड़ स्विस फ्रैंक घटकर 59.642 करोड़ ही रह गए थे.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि साल 1997 से स्‍विस बैंक ने जर्माकर्ताओं की सूचि भारत को मुहैया कराना शुरू किया था, तब से लेकर अबतक ये दूसरी बड़ी आंकड़ों की गिरावट है. साल 2006 में ये आंकड़ा सबसे ज्‍यादा 23000 करोड़ का था. इसके बाद से अगर 2011 और 2013 को छोड़ दिया जाए तो ये आकड़ा लगातार गिर रहा है.