लखनऊ. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ‘कांटा से कांटा निकालने’ संबंधी रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर के बयान पर पाकिस्तान की तल्ख टिप्पणी का जवाब देते हुए रविवार को कहा कि सारी दुनिया जानती है कि आतंकवाद को बढ़ावा कौन दे रहा है. राजनाथ सिंह ने भारतीय स्टेट बैंक अधिकारी संघ के लखनऊ सर्किल के त्रैवार्षिक आम सभा कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि भारत आतंकवाद को रोकने के लिए हरसंभव कदम उठा रहा है.

राजनाथ ने कहा कि पाकिस्तान को दहशतगर्दी से निपटने में पूरा सहयोग देना चाहिए, क्योंकि आज वह खुद भी इस संकट का शिकार है. उल्लेखनीय है कि पर्रिकर ने हाल में एक साक्षात्कार में आतंकवाद का जिक्र करते हुए ‘कांटे से कांटा निकालने’ का मुहावरा इस्तेमाल किया था और कहा था कि आखिर आतंकवादियों के खात्मे के लिए भारतीय सैनिकों का इस्तेमाल क्यों किया जाना चाहिए. पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सरताज अजीज ने कहा था कि पर्रिकर के बयान से साबित होता है कि पाकिस्तान में आतंकवाद के पीछे भारत का हाथ है. 

पाकिस्तानी विदेश कार्यालय द्वारा जारी बयान में अजीज के हवाले से कहा गया, “पहली बार ऐसा होगा कि किसी निर्वाचित सरकार का कोई मंत्री किसी दूसरे देश या उसके सरकार से इतर तत्वों से पनपने वाले आतंकवाद को रोकने के नाम पर उस देश में आतंकवाद के इस्तेमाल की खुलकर वकालत करता हो.” उन्होंने कहा कि पाकिस्तान गंभीरता से भारत के साथ अच्छे पड़ोसी के रिश्ते रखने की नीति का पालन करता है.

IANS