लखनऊ. उत्तर प्रेदश में समाजवादी पार्टी के मंत्री राम मूर्ति वर्मा द्वारा एक सब इंस्पेक्टर को धमकाने का मामला सामने आया है. अंबेडकर नगर से विधायक और दुग्ध विकास मंत्री राम मूर्ति पर सब इंस्पेक्टर संजय यती को फोन पर धमकी देने का आरोप लगा है. मामले की शिकायत खुद इंस्पेक्टर ने की है. संजय का कहना है कि मंत्री जी ने उन्हें न सिर्फ धमकाया है बल्कि फोन पर गालियां भी दी हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इंस्पेक्टर ने शिकायत के साथ-साथ फोन कॉल की रिकॉर्डिंग भी सबूत के तौर पर पेश की है. रिकॉर्डिंग से ऐसा लग रहा है कि जैसे मंत्री जी किसी मामले को दबाने के लिए संजय को धमकी दे रहे हैं. 
 
सबूत के तौर पर दी गई ऑडियो क्लिप में मंत्री जी कह रहे हैं कि क्या साबित करना चाहते हो तुम, ये बताओ. मंत्री ने कहा, ‘क्या साबित करना चाहते हो, तुम्हारा दिमाग खराब हो गया है क्या. हम तुमको देख लेंगे.’ इतना कहने के बाद मंत्री जी ने इंस्पेक्टर को गाली भी दी.   
 
मंत्री की बातों के जवाब में संजय यती ने फोन पर कहा कि, ‘जो भी बताना है बता देना. जनपद से ट्रांसफर करवा दोगे और क्या करोगे. क्या साबित करना है हमको वह तो मेडिकल में लिखा है. वो तो हम साबित करेंगे ही.’ पुलिस और राम वर्मा के बीच की बातचीत का ऑडियो सोशल साइट्स पर वायरल हो गया है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
इस मामले पर बीजेपी सांसद हरिओम पाण्डेय का कहना है कि समाजवादी पार्टी का हर नेता भ्रष्टाचार में पूरी तरह लिप्त है. इस मामले में शिकायत दर्ज कराने वाले इंस्पेक्टर ने कहा है कि मंत्री जी ज्यादा से ज्यादा क्या कर सकते हैं, वह या तो मेरा ट्रांसफर करा देंगे या फिर मेरे परिवार पर हमला करेंगे.