लखनऊ. यूपी में अगले साल होने वाले चुनाव से पहले राजधानी लखनऊ में सोमवार को सीएम अखिलेश यादव ने मंत्रिमंडल का विस्तार किया. अखिलेश के मंत्रिमंडल में पांच में से चार सदस्यों को अभी शामिल किया गया है. और पांचों में से एक जियाउद्दीन रिजवी 10 जुलाई को शपथ लेंगे. इनमें कुछ दिनों पहले बर्खास्त किए गए मंत्री बलराम यादव को फिर मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
 
यूपी के राज्यपाल राम नाईक ने राजभवन में नए मंत्रियों को शपथ दिलायी. वहीं दूसरी ओर शपथ ग्रहण समारोह कार्यक्रम से नाराज सीएम अखिलेश के ‘चाचा’ शिवपाल यादव नरारद रहे. बता दें कि कैबिनेट में जो नए चेहरे शामिल किए गए हैं, उनमें रविदास मेहरोत्रा, ज़ियाउद्दीन रिजवी और शारदा शुक्ला शामिल हैं.
 
 
यह हैं वो 5 चेहरे
समारोह के दौरान अखिलेश मंत्रिमंडल में कुछ दिनों पहले बर्खास्त किए गए मंत्री के बलराव यादव के अलावा नारद सहित लखनऊ से विधायक शारदा शुक्ल और रविदास मेहोरत्रा को राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में शपथ ली. जबकि विधायक जियाउद्दीन रिजवी 10 जुलाई को शपथ लेंगे.
 
 
शपथ समारोह में शिवपाल नदारद
समाजवादी पार्टी ने कार्यक्रम में शिवपाल यादव के ना शामिल होने को लेकर सफाई देते हुए कहा है कि किसी ‘मसरूफियत’ के चलते शिवपाल समारोह में शामिल नहीं हो पाए. वहीं रिपोर्ट्स के मानें तो कौमी एकता दल के विलय से हुई किरकिरी के बाद वे पार्टी से नाराज चल रहे हैं.