भोपाल. फेसबुक पर पूर्व प्रधानमंत्री व दिवंगत कांग्रेस नेता के नाम पर ‘राजीव गांधी आत्महत्या योजना’ शुरू करने संबंधी पोस्ट से विवादों में घिरी रतलाम की तहसीलदार अनीता सिंह तोमर का तबादला कर दिया गया है. बता दें कि रतलाम जिले के रावटी क्षेत्र की तहसीलदार अनीता सिंह तोमर ने छह जून को अपनी फेसबुक पर एक पोस्ट किया था, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सलाह दी थी कि वे राजीव गांधी आत्महत्या योजना शुरू करें.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
क्या लिखा था पोस्ट में ?
रिपोर्ट्स के अनुसार अमिता सिंह ने फेसबुक वॉल पर लिखा था कि प्रधानमंत्री अफगानिस्तान गए. वहां मुसलमानों ने भारत के झंडे लेकर सड़क पर ‘वंदे मातरम्’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए. उन्होंने यह भी लिखा था कि प्रधानमंत्री से अनुरोध है कि वे ‘राजीव गांधी आत्महत्या योजना’ शुरू करें ताकि सेक्युलर और कांग्रेसी विचार वाले ऐसी खबर सुनकर आत्महत्या कर सकें. सोशल मीडिया पर विरोध होने के बाद अमिता सिंह ने फेसबुक पोस्ट हटा दिया.
 
 
राजगढ़ किया ट्रांसफर
तहसीलदार के इस पोस्ट पर प्रदेश में कई लोगों ने सवाल उठाए, इसके बाद इस मामले पर तहसीलदार तोमर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया, इस पर उनकी ओर से जवाब दिया गया. जिलाधिकारी कार्यालय से तहसीलदार के तबादले की पुष्टि करते हुए बताया कि तोमर के तबादले का आदेश आया है. उन्हें राजगढ़ ट्रांसफर किया गया है. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पहले भी हो चुके हैं ऐसे मामले
इससे पहले बड़वानी के जिलाधिकारी रहते हुए अजय सिंह गंगवार ने फेसबुक पर जवाहर लाल नेहरू की तरीफ की थी, जिस पर उन्हें पद से हटा दिया गया था. इसके अलावा नरसिंहपुर के जिलाधिकारी सी.बी. चक्रवर्ती को कारण बताओ नोटिस सिर्फ इसलिए दिया गया, क्योंकि उन्होंने तामिलनाडु की मुख्यमंत्री बनने पर जयललिता को सोशल मीडिया पर बधाई दी थी.