नई दिल्ली. भारतीय खुफिया एजेंसियां ऐसे भारतीयों की तलाश में जुटी है जो अरब क्रांति से जुड़े एक कार्यकर्ता से आईएसआईएस ज्वाइन करने के बारे में पूछ रहे हैं. अधिकारियों का कहना है ईयाद अल ‘बगदादी’ नाम होने की वजह से लोगों में कंफ्यूजन है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
लोगों को ऐसा लग रहा है कि ईयाद अल बगदादी का संपर्क इस्लामिक स्टेट के प्रमुख अबु बक्र अल ‘बगदादी’ से है. लोग उसे ई-मेल भेजकर आईएसआईएस में जुड़ने की इच्छा जाहिर कर रहे हैं.
 
नार्वे में रहने वाले लियाद ने मंगलवार को एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा, ‘ऐसे लोगों की रिपोर्ट करने के लिए भारतीय अधिकारियों से किस प्रकार संपर्क किया जाए. यदि भारत से आईआईएस ज्वाइन करने की इच्छा रखने वाले लोगों का मैसेज मिलता है तो मैं किसे रिपोर्ट करूं?’
 
इस ट्वीट के बाद खुफियां एजेंसियां ऑनलाइन ट्रैकिंग कर रही हैं. साथ ही लियाद से भी संपर्क करने की कोशिश में जुटी है. वहीं लियाद के ट्वीट का जवाब देते हुए मुंबई पुलिस ने कहा है कि हमें सूचित करने के लिए शुक्रिया. हम इसपर नजर रखेंगे.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
वहीं खुफिया एजेंसियां लगातार लियाद से संपर्क की कोशिश में हैं, लेकिन भाषा की कुछ दिक्कतें सामने आ रही हैं. साथ ईयाद ने खुफिया अधिकारियों को कुछ मैसेज भी दिया है जो भारतीय लोगों द्वारा आईएसआईएस ज्वाइन करने के लिए भेजे गए हैं.