नई दिल्ली. बीजेपी ने राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम स्वामी पर की गई टिप्पणी से खुद को अलग करते हुए कहा कि यह उनकी ‘व्यक्तिगत राय’ है. बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने कहा, “यह उनकी व्यक्तिगत राय है और बीजेपी का इससे कोई लेना-देना नहीं है.” 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इससे पहले स्वामी ने अरविंद सुब्रमण्यम पर ‘कांग्रेस के लिए काम करने’ का आरोप लगाते हुए उन्हें बर्खास्त करने की मांग की थी. उन्होंने इस संबंध में कई ट्वीट किए. एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, “अमेरिकी कांग्रेस में 13 मार्च, 2013 को किसने कहा था कि अमेरिका को देश के फार्माश्यूटिकल हितों की रक्षा के लिए भारत के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए? (वित्त मंत्रालय के) अरविंद सुब्रमण्यम!! उन्हें बर्खास्त किया जाए!” 
 
अरविंद सुब्रह्मण्यम ने मुख्य आर्थिक सलाहकार के रूप में अक्टूबर 2014 को रघुराम राजन की जगह ली थी. एक अन्य ट्वीट में स्वामी ने कहा, “अनुमान लगाइए, किसने कांग्रेस को जीएसटी पर अड़ियल रवैया अपनाने के लिए प्रेरित किया? जेटली (वित्त मंत्री अरुण जेटली) के आर्थिक सलाहकार वाशिंगटन डीसी के अरविंद सुब्रमण्यम.”
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
स्वामी ने इस पर भी हैरानी जताई कि आखिर क्यों (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी की सरकार के पिछले दो साल के कार्यकाल में प्रमुख आर्थिक क्षेत्रों में प्रगति नहीं हुई? उन्होंने कहा, “अब देशभक्त ट्विटर उपयोगकर्ता (पीटी) हमारे प्रमुख आर्थिक क्षेत्रों में पिछले दो साल में नहीं हुई प्रगति का कारण समझ सकते हैं. वित्त मंत्रालय/वित्तीय संस्थानों में बड़े पैमाने पर भितरघात.”