नई दिल्ली. बुद्धवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक में महात्मा गांधी सेतु के पुननिर्माण को मंजूरी दे दी गई. 5.575 किलोमीटर लंबा ये पुल बिहार में एनएच 19 पर गंगा नदीं के उपर  बना हुआ है. ये सेतु पटना को हाजीपुर से जोड़ता है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
वित्तमंत्री अरुण जेटली ने बताया कि ये पुल काफी जर्जर स्थिति में है जिसके कारण इस पर काफी जाम रहता है, इसलिए सरकार ने उसे फोर लेन बनाने और उसका पुनरुद्धार करने को मंजूरी दी है. 5.8 किलोमीटर लंबे इस पुल के कई खंभे अभी खराब स्थिति में हैं. 
 
केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बताया है कि गांधी सेतु की पुनरुद्धार योजना की लागत 1742 करोड़ रुपये आयेगी. उन्होंने कहा कि अगले महीने इसका टेंडर निकाला जायेगा, जिसे अगस्त में स्वीकृति देते हुए काम शुरू किया जायेगा. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
गडकरी ने बताया कि गांधी सेतु के समानांतर एक और सेतु बनाया जायेगा. इसका डीपीआर तैयार कराया जा रहा है और इस पर लगभग 6000 करोड़ रुपये की लागत आयेगी. गडकरी के अनुसार, दिसंबर तक इसके काम को अंतिम स्वरूप दे दिया जायेगा.