कैराना. समाजवादी पार्टी के संतों की टीम कैराना पहुंच गई है. संतों ने माना है कि दहशत की वजह से लोगों ने अपना-अपना घर छोड़ा. संतों ने कहा है कि यहां के गुंड़ो को सियासी संरक्षण मिला हुआ है. यूपी के कैबिनेटी के मंत्री शिवपाल यादव ने पांच लोगों की कमेटी बनाई थी. जिसमें ये संतों की ये टीम मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार को अपनी रिपोर्ट देगी. जिसके बाद यूपी सरकार आगे की कार्रवाई करेंगी. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस टीम में आचार्य प्रमोद कृष्णम्, स्वामी कल्याण देव, नारायण गिरी, पूर्व जज स्वामी चिन्मयानंद और हिंदू महासभा के अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि शामिल हैं. आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा की ये एक सोची समझा साजिश है. हम इसका तीन दिन में ही पर्दाफाश कर देगें. उन्होंने कहा कि सबसे मिलने के बाद जो रिपोर्ट तैयार की जाएगी और वह प्रदेश सरकार को सौंपी जाएगी.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
चक्रपाणी महाराज ने बताया कि इसमें कोई दो राय नहीं कि यहां के लोगों में डर का माहौल है. लोगों ने बताया कि अगर हम यहां किसी से मिलते हैं और मीडिया से बात करते हैं तो उनके पास धमकी भरा फोन आ जाता है. निश्चित रूप से डर का माहौल है.