हैदराबाद. भारतीय वायुसेना के लिए आज का दिन बेहद ही खास है. आज सेना को देश की पहली 3 महिला फाइटर पायलट मिल जाएंगी. भावना कांत, अवनी चतुर्वेदी और मोहना सिंह को शनिवार यानि 18 जून को वायुसेना का औपचारिक रूप से कमीशन मिल जाएगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
1 साल बाद उड़ाएंगी फाइटर प्लेन
आज कमीशन मिलने के करीब 1 साल बाद तीनों महिला पायलटों को जेट विमान उड़ाने का मौका मिलेगा. बता दें कि अंतरराष्ट्रीय महिला क दिवस मौके पर इनकी ट्रेनिंग की घोषणा हुई थी.
 
हैदराबाद से करीब तीन किलोमीटर दूर डुंडिगल एयरफोर्स अकादमी में तीनों महिला पायलटों को रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर की मौजूदगी में लड़ाकू विमान उड़ाने के लिए वायुसेना में शामिल किया जाएगा. इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट ये तीनों युवा महिलाएं अपनी शुरुआती ट्रेनिंग पूरी कर चुकी हैं. अब इनकी एक साल की एडवांस ट्रेनिंग कर्नाटक के बीदर में होगी.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पहले महिलामों को नहीं थी फाइटर प्लेन उड़ाने की इजाजत
इससे पहले भारतीय वायुसेना में महिलाओं को फाइटर प्लेन उड़ाने की अनुमति नहीं थी. पहले महिलाओं को केवल हेलिकॉप्टर और ट्रांसपोर्ट प्लेन उड़ाने दिया जाता था. इस समय वायुसेना में 1500 महिलाएं हैं, जो अलग-अलग विभागों में अपनी सेवाएं दे रही हैं.