बेंगलुरु. देश में पहले स्वदेशी बेसिक ट्रेनर एयरक्राफ्ट (HTT-40) का ट्रायल सफल रहा है. आज ट्रायल के दौरान रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर खुद मौजूद थे. एयरक्राफ्ट को हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड ने बनाया है. अब तीनों सेनाओं के कैडेट्स को ट्रेनिंग के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकेगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
एयरक्राफ्ट के कॉकपिट में बैठकर रक्षामंत्री पर्रिकर ने बताया कि यह मेक इन इंडिया की कामयाबी है. एयरक्राफ्ट के ट्रायल से पहले रक्षामंत्री पर्रिकर ने कॉकपिट में बैठकर इसकी जानकारी ली. पर्रिकर ने ट्वीट कर इस एयरक्राफ्ट को मेक इन इंडिया की कामयाबी बताया. 
 
बता दें कि HTT-40 का पहला प्रोटोटाइप इसी साल जनवरी में सामने आया था. बताया जा रहा है कि 2018 तक इसको आधिकारिक तौर पर इजाजत मिल जाएगी. HAL के चेयरमैन टी सुवर्णराजू ने एचटीटी-40 की कामयाबी पर टीम को बधाई दी है. देश को इस तरह के 200 प्लेन की जरूरत है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
इससे पहले, 31 मई को भी HTT-40 की टेस्टिंग की गई थी. सूत्रों के मुताबिक, एयरफोर्स अपने लिए 70 टर्बो ट्रेनर्स एयरक्राफ्ट का ऑर्डर दे सकती है. हालांकि एयरफोर्स टर्बो ट्रेनर की डिलीवरी में देरी को लेकर नाराजगी जाहिर कर चुका है.