सहारनपुर. कैराना का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि देवबंद और आगरा से भी हिन्दू परिवारों के पलायन की बात सामने आई है. 40 हिन्दू परिवारों की लिस्ट जारी करते हुए बजरंग दल ने कहा कि इन सभी परिवारों का पलायन बदमाशों के डर से हुआ है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
गुरुवार को सहारनपुर के मकबरा चौक स्थित गुर्जर भवन में एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस को संबोधित करते हुए बजरंग दल के प्रांत मंत्री विकास त्यागी ने सूची करते हुए कहा, ”पश्चिमी यूपी भी अब कश्मीर बनने की राह पर है, लेकिन इससे बेखबर यूपी सरकार वोट बैंक बनाने में जुटी है.” वहीं सनातन धर्म महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष महंत स्वामी रूपेंद्रानंद महाराज ने कहा कि हिंदुओं का पलायन एक साजिश के तहत हो रहा है.
 
देवबंद से पलायन हुए परिवारों की सूची
तपेंद्र कपूर (किला), राजेश गर्ग (पत्थर का कुआं), ललित सिंघल (मिश्रा कॉलोनी), गजेंद्र कश्यप (कायस्थवाड़ा), प्रदीप शर्मा, अक्कु अग्रवाल, वीरेंद्र (जनकपुरी). नेचलगढ़ से ओपी चौधरी व प्रदीप धीमान, वीर सिंह सैनी (लहसवाड़ा), सतीश चंद गर्ग (कायस्थवाड़ा), कालू कंसल (मित्रसैन चौक), सत्य प्रकाश व जयप्रकाश (जनकपुरी), राधेश्याम (छिंपीवाड़ा). रविकांत गोयल, सतीश क्रेशर वाले (मित्रसैन चौक), राकेश गर्ग (शिक्षक नगर), मनोज चावला (पंजाबी कॉलोनी), नारायणदास माहेश्वरी, श्रीपाल धीमान, नरेश धीमान (शास्त्री चौक), अनुज मंगल (कायस्थवाड़ा), अभिषेक जैन, राजकुमार मंगल और प्रद्युमन सिंह (कानूनोगायन), गोपाल सिंह (शास्त्री चौक), प्रमोद गर्ग (कायस्थवाड़ा), राकेश कुमार जौली (किला), महेश चंद शर्मा (जनकपुरी), सुधीर गर्ग (रेलवे रोड), भीम सैन (कैलाशपुरम), दुआ पंजाबी (ब्रहमपुरी), बबलू पंजाबी (कैलाशपुरम), गौरी सरदार (किला), मनोज पंजाबी (पंजाबी कॉलोनी), बनारसी दास रतड़ा (ब्रहमपुरी), संजय तायल (जोशीवाड़ा), सोहन लाल नारंग (मिसैन चौक), रमेश गर्ग (कायस्थवाड़ा) आदि लोगों के नाम शामिल हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
सर्वे में हुआ खुलासा
विश्व हिन्दू परिषद की ओर से कराए गए एक सर्व में इस बात की पुष्टि की गई है. इसके लिए इन इलाकों में 5 साल पहले की वोटर लिस्ट और वर्तमान वोटर लिस्ट में मेल कराया गया, जिसमें पाया गया कि 350 से ज्यादा हिन्दू परिवार गुंडों के डर से पलायन कर गए.