नई दिल्ली. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर में आंतरिक सुरक्षा और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से हाईलेवल बैठक बुलाई है. इस बैठक में पिछले दिनों से जारी आतंकी गतीविधियों को लेकर चर्चा हो रही है. इस बैठक में आईबी चीफ, रॉ के अधिकारी और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों को शामिल किया गया है. इस बैठक में एनएसए अजीत डोभाल और कई सुरक्षा विभाग के आला-अधिकारी मौजूद हैं.  
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रिपोर्ट्स के अनुसार आधे घंटे चली इस बैठक में आईबी के पास 10 दिनों से लगातार कुछ ऐसे इनपूट आ रहे हैं जिसमें पाकिस्तान में बैठे आतंकी निर्देश दे रहे हैं कि भारतीय सेना और सुरक्षा बलों पर हमला किया जाए. इस हमले में पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी आईएसआई मदद कर रही है और घाटी में हालात को और बिगाड़ सकती है.  
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पिछले कुछ दिनों से जारी है मुठभेड़
जम्मू-कश्मीर के सोपोर जिले में शुक्रवार को आतंकियों से मुठभेड़ इस वक्त जारी है. मुठभेड़ में अब तक एक आतंकी मारा गया है, जबकि वहां एक और आतंकी के छिपे होने का शक है. बताया जाता है कि सुरक्षा बलों को आतंकियों के छिपे होने की खुफिया जानकारी मिली थी, जिसके बाद बोमाई गांव में सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया. करीब घंटे भर की खोजबीन के बाद आतंकी एक घर में छिपे हुए पाए गए. सेना ने गुरुवार को यहां एक घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करते हुए चार आतंकियों को मार गिराया था. इस एनकाउंटर में सेना का एक जवान भी शहीद हुआ था.