मेरठ. कैराना मामले पर राजनीति शुरू हो गई है. एक ओर जहां पार्टियां इस मामले पर अपने बयान को लेकर सुर्खियां बटोरने की कोशिश कर रही हैं, वहीं अब सरधना से बीजेपी एमएलए संगीत सोम ने आज ‘निर्भय यात्रा’ करने की घोषणा की है. निर्भय यात्रा सरधना से कैराना तक होगी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सरधना से कैराना तक 40 किलोमीटर की अपनी पदयात्रा के बारे में सोम ने कहा, ‘यात्रा का नाम निर्भय इसलिए रखा गया है ताकि यूपी के लोग बिना किसी डर-भय के रह सकें. ‘इस यात्रा में हजारों लोगों के शामिल होने की उम्मीद है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
संगीत सोम ने कहा कि यदि कैराना मामले की निष्पक्ष जांच नहीं होती है तो यूपी के सभी जिलों में पदयात्राएं निकाली जाएंगी. उन्होंने दादरी कांड पर कहा कि इखलाक के घर में गोमांस की पुष्टि होने के बावजूद भी सरकार कार्यवाई करने के बजाय हाथ-पर-हाथ धरे बैठी है, इसी वजह से यह यात्रा की जा रही है.
 
‘निर्भय यात्रा’ के जवाब में सपा का ‘सद्भाभावना मार्च’
वहीं सपा के अतुल प्रधान अपनी ‘सद्भाभावना यात्रा’ के जरिए सोम को घेरने की तैयारी कर रहे हैं. अतुल ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी वाले जनता के साथ तथ्यों को गलत तरीके से पेश करते हैं. हमारी सद्भभावना यात्रा ऐसे ही लोगों को बेनकाब करने के लिए है. उन्होंने कहा कि जनता बीजेपी की चाल से पूरी तरह वाकिफ है. अपने वादों से ध्यान भटकाने के लिए बीजेपी कैराना मुद्दे को हवा दे रही है.
 
धारा 144 लागू
संगीत सोम और अतुल प्रधान दोनों की यात्रा को रोकने के लिए प्रशासन पूरी तरह से तैयार है. कैराना मार्च के ऐलान को लेकर सुरक्षा के मद्देनजर प्रशासन ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कैराना में धारा 144 लागू कर दिया है. साथ बाहरी इलाकों में भी पुलिस बल को तैनात किया गया है.