नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में बिजली समस्या से निपटने के लिए केजरीवाल की सरकार ने अनिल अंबानी की कंपनी ADAG को चिट्ठी क्यों लिखी इसका राज खुल गया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का एक वीडियो सामने आया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मंगलवार की रात केजरीवाल सीलमपुर विधानसभा इलाके में पहुंच गए और जाफराबाद के लोगों से मिले. लोगों ने भारी बिजली कटौती को लेकर लोगों से शिकायत की. लोगों की शिकायत से बौखलाए केजरीवाल ने ऊर्जा मंत्री सतेंद्र जैन को बुला लिया और बीएसईएस यमुना कंपनी के सीईओ को बुला लिया.
 
उन्होंने पब्लिक के सामने ही बिजली कंपनियों के लोगों की लताड़ लगा दी और कहा कि सीएम के आने पर लाईट आ जाती है. उन्होंने ये भी कहा कि कांग्रेस नेता मतीन के कहने पर कंपनी के लोग लाईट काट देते हो.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
केजरीवाल ने यहां तक कह दिया कि कोई बहाना नहीं चलेगा. जहां ट्रांसफॉर्मर के लिए जमीन चाहिए, मिलेगा. मौके पर ही मौजूद ऊर्जा मंत्री से कहा इसके लिए प्रस्ताव बनाओ, जितनी जरुरत है, उतनी जमीन दिलाओ ट्रांसफॉर्मर के लिए.