नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने देश के सभी प्रमुख जिला मुख्यालयों में इस साल सितंबर तक इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आइपीपीबी) की 650 शाखाएं खोलने के लिए तैयारियां तेज कर दी हैं. इस बैंक की स्थापना के लिए 800 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा. संचार व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने डाक विभाग के सभी कर्मचारियों को लिखे पत्र में यह जानकारी दी है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस पत्र में प्रसाद ने विभाग के सभी कर्मचारियों और ग्रामीण डाक सेवकों से इंडिया पोस्ट के भुगतान बैंक के लिए समर्थन मांगा है. पत्र में उन्होंने यह भी लिखा है कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक सच्चे अर्थों में अंत्योदय के लिए काम करेगा. उनका मानना है कि डाकिये के साथ लोगों का खास भावनात्मक जुड़ाव है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
केंद्रीय कैबिनेट ने दो जून को 800 करोड़ रुपये के फंड के साथ इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आइपीपीबी) की स्थापना के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी. इसमें सितंबर तक पेमेंट बैंक की 650 ब्रांचों को चालू करने और वित्त वर्ष 2018-19 के अंत तक पूरे देश को इसके दायरे में लाने की बात कही गई है. प्रसाद के मुताबिक खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ये 650 शाखाएं सितंबर के अंत तक पूरी तरह चालू हो जानी चाहिए.