नोएडा. दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा के बिसरख में पुलिस और सुंदर भाटी गैंग के बीच मुठमेड़ हुई. इस मुठमेड़ में गैंग के सदस्य और 50 हजार इनामी कुख्यात शूटर अंकित गुर्जर की गोली लगी है. शनिवार को करीब डेढ़ घंटे चले एनकाउंटर के बाद पुलिस ने अंकित गुर्जर को दबोच लिया है. इस मुठभेड़ में अंकित गुर्जर को दो गोलिया लगी हैं. मुठभेड़ के दौरान कुछ पुलिसकर्मियों को भी मामलू चोट आई हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अंकित के पैर में लगीं दो गोलियां
गौतम बुद्ध नगर के एसपी (क्राइम) विश्वजीत श्रीवास्तव ने बताया कि सुंदर भाटी गैंग का शॉर्प शूटर और 50,000 इनामी अंकित गुर्जर अपने साथी संजय गुर्जर के साथ मुठभेड़ के बाद धर लिया गया है. एसएसपी धर्मेंद्र यादव ने बताया कि अंकित को पैर में दो गोलियां लगी हैं. फिलहाल वह खतरे से बाहर है. अंकित पिछले दिनों सूरजपुर कोर्ट में अपनी तारीख के दौरान पुलिस कस्टडी से फरार हो गया था. इसके बाद से ही पुलिस उसके पीछे लगी हुई थी. 
 
पुलिस ने ट्रैप करते हुए पकड़ा
शनिवार को पुलिस ने बताया कि अंकित अपने साथी संजय के साथ कार से बिशरख इलाके से जाने वाला है. उसे समय रहते ट्रैप किया गया और 14 पुलिसकर्मियों ने अंकित और उसके साथी को घेर लिया. पुलिस ने जैसे ही उसकी कार रोकी, बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी. डेढ़ घंटे के एनकाउंटर में पुलिस ने करीब 12 राउंड गोलियां जबकि बदमाशों की ओर से 6 राउंट गोलियां फायर की गईं. इनमें से दो गोलियां अंकित के पैर में लगीं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
दो राज्यों का इनामी बदमाश रह है अकंति
मूलरूप से नारौली गांव का रहने वाला अंकित गुर्जर सुंदर भाटी गैंग का बेहद शातिर और शार्प शूटर है. वह सुंदर भाटी के लिए काम करता है. अंकित दो राज्यों से पहले भी इनामी बदमाश रह चुका है. पूर्व में उसके ऊपर हरियाणा से 25 हजार और यूपी से 50 हजार का इनाम घोषित था. वह कोतवाली सेक्टर-39 क्षेत्र से साल 2015 में पकड़ा गया था.