मुंबई. पिछले सप्ताह महाराष्ट्र मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले एकनाथ खडसे को मुंबई एटीएस ने डॉन दाऊद इब्राहिम से कॉल आने से जुड़े आरोपों में बरी कर दिया है. एटीएस ने कहा है कि उनके मोबाइल पर पिछले महीने में कोई अंतरराष्ट्रीय कॉल न आया और न ही रिसीव किया गया. 
 
गृह विभाग के अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि कराची के लैंड लाइन (दाउद की पत्नी के नाम पर पंजीकृत) से खडसे के सेलफोन पर कॉल किए जाने के मामले की जांच लगभग पूरी हो चुकी है और अंतिम रिपोर्ट एक सप्ताह के भीतर आ सकती है.
 
अधिकारी ने कहा, ‘आतंकवाद-निरोधक दस्ता (जिसने आरोपों की जांच की) को सारे कॉल डाटा रिकॉर्ड मिले हैं. अब तक इन कॉल डाटा रिकॉर्डस की जांच में कुछ भी उल्लेखनीय बात सामने नहीं आई है.’ इससे पहले मुंबई पुलिस की अपराध शाखा ने भी कहा था कि आरोपों में कोई दम नहीं है. 
 
मुंबई एटीएस प्रमुख जॉइंट पुलिस कमिशनर अतुलचंद्र कुलकर्णी ने बताया कि खड़से के मोबाइल फोन के कॉल रिकॉर्ड की जांच में यह सामने आया है कि इस नंबर पर न कभी अंतरराष्ट्रीय कॉल आया न किया गया. एटीएस ने खड़से को कुछ हद तक राहत दी है. हालांकि उन पर लगे बाकी आरोपों की अभी जांच चल रही है. इस संबंध में आरोप सबसे पहले आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाए थे.