चंडीगढ़. जाट समुदाय के कुछ नेताओं ने आरक्षण के लिए पांच जून से फिर आंदोलन शुरू करने का निर्णय लिया है. इसे देखते हुए हरियाणा पुलिस ने गुरुवार को सभी पुलिसकर्मियों का अवकाश रद्द किए जाने की घोषणा की. हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने कहा, “जाट आरक्षण आंदोलन के पांच जून से विभिन्न जिलों में शुरू होने की संभावना है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
 
पुलिस विभाग ने आपात स्थिति वाले मामलों को छोड़कर अगले आदेश तक सभी तरह के अवकाश रद्द कर दिए हैं.” इस बारे में सभी पुलिस आयुक्तों, जिला अधीक्षकों एवं पुलिस के अन्य संस्थानों के प्रमुखों को इससे अवगत करा दिया गया है.
 
 
हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) मुहम्मद अकील ने कहा कि पुलिस किसी भी परिस्थिति का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है. उन्होंने कहा कि पुलिस और जिला प्रशासन कानून व्यवस्था और जनता की सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे. जो भी कानून व्यवस्था प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से तोड़ेगा, उससे सख्ती से निपटा जाएगा.
 
 
कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस कर्मियों एवं अर्धसैनिक बलों को सोनीपत, रोहतक, झज्जर, जींद, पानीपत और कैथल जैसे संवेदनशील जिलों में भेजा गया है. सोनीपत जिले में आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लगा दी गई है. इसमें पांच या उससे अधिक लोगों के किसी जगह जमा होने पर रोक है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter