नोएडा. देश की राजनीति को हिलाकर रख देने वाले दादरी कांड में एक फॉरेंसिक रिपोर्ट आने के बाद गोरखपुर से बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ ने सभी आरोपियों की रिहाई और मोहम्मद अखलाक के परिवार को दिए गए मुआवजा और फ्लैट वापस लेने की मांग की है. उन्होंने कहा कि दरी कांड में अब साफ हो गया है कि गौमांस का प्रयोग हुआ था. इसलिए अब राज्य सरकार माफी मांगे और अखलाक के परिवार वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए.
 
अखलाक की हत्या के बाद देश में असहिष्णुता का माहौल बताया जाने लगा जिसके विरोध में कई बड़ी हस्तियों ने अपने अवार्ड लौटाने शुरु कर दिए थे. इस पर आदित्यनाथ ने कहा कि अवार्ड लौटाने वालों को भी माफी मांगनी चाहिए.
 
आदित्यनाथ ने सपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस जांच रिपोर्ट ने धर्मनिरपेक्षता और विपक्षी दलों के पोल को खोल कर रख दी है. बता दें कि दादरी में हुई घटना में अखलाक नामक एक शख्‍स की मौत हो गई थी जिसके बाद हत्या के आरोप में 19 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था.
 
बोले उत्तर प्रदेश चुनाव पर
इस बीच आदित्यनाथ ने यूपी चुनाव को लेकर बातचीत की और कहा कि उत्तर प्रदेश में हिन्दुत्व और विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ा जायेगा और बिना हिन्दुत्व के विकास की कल्पना नही की जा सकती. साथ ही राम मंदिर मामले में सरकार को पहल करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि यूपी के चुनावों में अगर चेहरा दिया जाएगा तो उसका फायदा होगा लेकिन फैसला संसदीय बोर्ड को करना है.
 
क्या है रिपोर्ट में?
इस मामले की सुनवाई कर रहे कोर्ट में मथुरा की फॉरेंसिक लैब ने मीट की जो जांच रिपोर्ट दी है उसके मुताबिक अखलाक के घर से मिला मीट या तो किसी गाय का था या उसके बछड़े का. कोर्ट को यह रिपोर्ट अप्रैल में सौंपी गई थी जिसे कोर्ट के आदेश पर मंगलवार को जारी की गई.
 
पहली जांच मे बताया था बकरे का मांस
बता दें कि अक्टूबर, 2015 में यूपी सरकार ने सैम्पल की जांच कराई थी. तब इसे बकरे का मांस बताया था. दो अलग-अलग रिपोर्ट से कई सवाल उठ रहे हैं. यूपी के डीजीपी जावेद अहमद ने कहा, ”पहले की जांच से ऐसा लग रहा था कि अखलाक के पास मटन ही मिला था, लेकिन अब नई लैब रिपोर्ट से साफ हो गया है कि गाय या बछड़े का मांस घर में मौजूद था.”
 
क्या था मामला?
नोएडा के बिसहड़ा गांव में अखलाक के घर पर 28 सितंबर, 2015 को हमला हुआ था जिसमें अखलाक की मौत हो गई थी जबकि अखलाक का बेटा दानिश गंभीर रूप से जख्मी हो गया था. यूपी पुलिस ने अखलाक के घर से बरामद मीट के टुकड़े को फॉरेंसिक जांच के लिए मथुरा लैब भेजा था.