दिसपुर. असम में पहली बार सरकार बनाने वाली बीजेपी के लिए असम बोर्ड के दसवीं कक्षा के रिजल्ट से ज्यादा अच्छी कोई खबर नहीं हो सकती. राज्य में संघ परिवार की शाखा विद्या भारती के स्कूल में पढ़ने वाले मुस्लिम बच्चे सरफराज हुसैन ने दसवीं कक्षा में टॉप किया है. 
 
असम बोर्ड का रिजल्ट मंगलवार को घोषित किया गया. इसमें टॉपर सरफराज ने 600 में से 590 अंक हासिल किए हैं. सरफराज ने अपनी सफलता का पूरा श्रेय स्कूल के टीचर्स को दिया है. गुवाहाटी के शंकरदेव शिशू निकेतन में पढ़ने वाले 16 साल के इस बच्चे ने कहा, ‘मेरी सफलता का राज यह स्कूल ही है. इसके बदौलत ही मैं टॉप कर सका हूं. मुझे गर्व है कि मैं इस स्कूल का छात्र हूं.’
 
इंजीनियर बनने की चाहत रखने वाला सरफराज इससे पहले भी संस्कृत में निबंध लेखन और वाद-विवाद प्रतियोगिता में टॉप कर चुका है. संस्कृत के बारे में उसका कहना है कि उसे यह विषय पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं आई.
 
सरफराज के रिजल्ट से खुश होकर राज्य के शिक्षा मंत्री हेमंत सरमा ने हर ग्राम पंचायत में विद्या भारती स्कूल खोलने की घोषणा की है. इसके अलावा उन्होंने सरफराज के परिवार को 5 लाख रुपये देने का भी ऐलान किया है. 
 
बता दें कि असम में इस बार कुल 3.8 लाख छात्रों ने दसवीं कक्षा की परीक्षा दी थी, जिनमें से 2.39 लाख बच्चों ने इसमें सफलता हासिल की है.