नई दिल्ली. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) जून में एक रॉकेट से 22 सैटेलाइट लांचकर रिकॉर्ड बनाने जा रहा है. ये जानकारी इसरो के अध्यक्ष किरण कुमार ने दी. किरण कुमार ने कहा ‘फिर से इस्तेमाल किए जाने लायक मौजूदा प्रक्षेपण यान के बाद हमें जो अगला प्रयोग करना है, उसके बारे में चिंता करनी है. इसके अलावा अगले महीने हम एक ऐसा प्रक्षेपण करने जा रहे हैं जिसमें हम करीब 22 उपग्रह प्रक्षेपित करेंगे. काटरेग्राफिक श्रृंखला का भी एक उपग्रह प्रक्षेपित किया जाएगा.’
 
 
फेडरेशन ऑफ कर्नाटक चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में किरण कुमार ने बताया कि 22 उपग्रहों में से तीन भारतीय हैं और शेष वाणिज्यिक हैं. उन्होंने कहा कि अगले महीने के अंत में प्रक्षेपण किया जाना है. इससे पहले, विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र के निदेशक के. शिवन ने कहा था कि इसरो के पीएसएलवी सी34 को प्रक्षेपण के लिए इस्तेमाल किया जाएगा जिसमें अमेरिका, कनाडा, इंडोनेशिया और जर्मनी के उपग्रह सह-यात्री के तौर पर शामिल होंगे. इसरो ने 2008 में एक ही मिशन में 10 उपग्रहों को प्रक्षेपित किया था.