दावणगेरे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कर्नाटक में गरीब परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन मुहैया कराने के लिए उज्ज्वला योजना लांच की और कहा कि पिछले एक साल में तीन करोड़ से अधिक परिवारों ने रसोई गैस कनेक्शन छोड़े हैं. 
 
मोदी ने बेंगलुरू से 260 किलोमीटर दूर कर्नाटक के इस टैक्सटाइल शहर में एक विशाल रैली को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी दो साल पुरानी सरकार ने 700 से ज्यादा योजनाएं शुरू की हैं. यदि कुछ काम नहीं भी हो सके हैं तो भी ‘मैं देश को गलत राह पर नहीं जाने दूंगा.
 
पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने अपना दफ्तर भी ठीक से नहीं देखा था और कुछ लोगों ने उनके काम पर सवाल उठाना शुरू कर दिया. आलोचकों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार के कार्यक्रम मुख्य रूप से किसानों और गरीबों के लिए हैं और उनमें बिचौलियों की भूमिका खत्म की जा रही है.
 
अपनी सरकार के दो साल पूरे होने के मौके पर ‘विकास पर्व’ के तहत एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने जोर देकर कहा कि पिछले एक साल में हमारी सरकार ने तीन करोड़ से अधिक परिवारों को गैस कनेक्शन मुहैया कराया है. मोदी ने जोर देकर कहा कि इस योजना से महिलाओं की सेहत सुधरेगी, क्योंकि उन्हें भोजन पकाने में लकड़ी के चूल्हे से निकलने वाले धुओं से मुक्ति मिल जाएगी. 
 
बीजेपी नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के दो साल पूरे होने के मौके पर आयोजित विकास पर्व रैली में मोदी ने जनता के कल्याण के लिए शुरू की गईं विभिन्न परियोजनाओं को गिनाया, खासतौर से गरीबों, वंचितों और आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों के लिए शुरू की गई योजनाओं को. मोदी ने यह भी कहा कि उनकी सरकार की लोकप्रिय जन धन योजना, स्वच्छ भारत अभियान और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ ने किस तरह देश के लाखों लोगों को लाभ पहुंचाया है.