नई दिल्ली. कॉन्गो के छात्र मसोन्डा कटैन्डा ओलिविये की मौत और अफ्रीकी मूल के छात्रों पर लगातार हो रहे हमलों पर विदेश मंत्री सुष्मा स्वराज ने ट्वीट किया है. उन्होंने आश्वासन देते हुए कहा है कि दोषीयों को जल्द ही गिरफ्तार किए जाएंगे और लोगों को संवेदनशील बनाने का अभियान भी उन क्षेत्रों में चलाया जाएगा जहां अफ्रीकी नागरिक रहते हैं.
विदेशमंत्री ने एक अन्य ट्विटर संदेश में कहा, मैंने राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह और सचिव अमर सिन्हा को अफ्रीकी छात्रों से मिलने को कहा है जिन्होंने जंतर मंतर पर प्रदर्शन की घोषणा की है. अफ्रीकी बाशिंदों पर हमले के बाद विदेश मंत्रालय में सचिव (आर्थिक संबंध) अमर सिन्हा अफ्रीकी समुदाय के साथ संपर्क में हैं. इन हमलें में सक्रियता दिखाते हुए गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस से ऐक्शन लेने को कहा है.
बता दें कि 21 मई को कॉन्गो के छात्र मसोन्डा कटैन्डा ओलिविये की दिल्ली में कुछ युवकों ने पीट-पीटकर जान ले ली थी. इसके बाद शुक्रवार को आधा दर्जन अफ्रीकी मूल के नागरिकों पर हमले हुए. ऐसे हमलों पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने गृह मंत्री सुषमा स्वराज ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से बात कर इस संबंध में अपनी चिंता जाहिर की थी. उन्होंने इस सिलसिले में दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर नजीब जंग से भी मुलाकात की थी.
 
रिपोर्ट के मुताबिक अफ्रीकी छात्र दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की अपनी मांग के समर्थन में मंगलवार को जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने की योजना बना रहे हैं. इस बीच, विदेश मंत्रालय प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि सरकार कांगो के मृत युवक मासुंदा कितांदा ओलिवर के परिवार को भारत आने और उसका पार्थिव शरीर ले जाने में मदद करेगी.
 
स्वरूप ने कहा, श्री मासुंदा ओलिवर की दुर्भाग्यपूर्ण मौत में सरकार उनके परिवार को भारत की यात्रा करने और उनका पार्थिव अवशेष लेने में मदद करेगी. हम अपने खर्च पर उनका पार्थिव शरीर कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य ले जाने का इंतजाम करेंगे.
अफ्रीकी देशों के राजदूतों ने ओलिवर की हत्या पर मंगलवार को आक्रोश जताया था जिसके बाद भारत ने अफ्रीकी नागरिकों की सुरक्षा का भरोसा दिलाया था. इस बीच, पुलिस ने दक्षिण दिल्ली में अफ्रीकी नागरिकों पर शारीरिक हमले करने और उन्हें धमकाने के तीन मामले दर्ज किए हैं.
 
बता दें कि कुछ दिन पहले हैदराबाद में कार पार्किंग के मुददे पर विवाद में नाइजीरिया के 23 साल के एक छात्र पर हमला हुआ था. सुषमा ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के़ चंद्रशेखर राव के समक्ष यह मुददा उठाया है. राव ने दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई का वादा किया है. विदेश मंत्री ने इस संबंध में तेलंगाना सरकार से तत्काल रिपोर्ट मांगी है.