भदोही. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य में हुए विकास कार्यों के पैमाने पर समाजवादी पार्टी (सपा) का कोई मुकाबला नहीं कर सकता. इस मौके पर उन्होंने पहली बार उप्र में शराबबंदी को लेकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की. उन्होंने कहा कि किसानों के हितों को देखते हुए शराबबंदी लागू करना उचित नहीं होगा. 
 
अखिलेश ने कहा, “बीते चार सालों में सपा की सरकार ने सभी वर्गो के विकास पर जोर दिया है. हमारी कोशिश है कि उत्तर प्रदेश की अवसंरचना मजबूत हो. अमेरिका ने अपना विकास सड़कें बनाकर किया है, हम भी सड़क बनाकर ही विकास का रास्ता तय कर रहे हैं.”
 
उन्होंने कहा कि बाबतपुर भदोही चार लेन, एक्सप्रेस-वे इसका उदाहरण है. एक्सप्रेस वे को अक्टूबर तक लखनऊ से जोड़ देंगे. अखिलेश भदोही में साढ़े चार अरब की 73 परियोजनाओं के लोकार्पण-शिलान्यास, विद्यार्थियों को लैपटाप, गरीबों को पेंशन व श्रमिकों को साइकिलें वितरित करने के बाद एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे. 
 
मुख्यमंत्री ने कहा, “बाबतपुर-भदोही के बाद भदोही-मिर्जापुर को कंक्रीट से चार लेन बनाने का काम शुरू होगा. अभी हमने जिलों को सड़कों से जोड़ा है, भविष्य में गांवों को भी सड़कों से जोड़ेंगे.” उन्होंने कहा, “हमारी कोशिश सूबे में सभी को भरपूर बिजली उपलब्ध करना है. सपा ने लगातार बिजली उत्पादन बढ़ाने के लिए उपकेंद्र और पॉवर स्टेशनों की स्थापना की है. जिस उत्तर प्रदेश ने बीजेपी को 73 सांसद दिए, उस प्रदेश को बिजली के मामले में केंद्र सहयोग नहीं कर रहा है.”
 
अखिलेश ने कहा, “हमने न केवल 24 घंटे बिजली दी, बल्कि सारनाथ को भूमिगत केबल डालकर जर्जर तारों से मुक्ति दिलाने का कार्य शुरू कराया.” उन्होंने कहा कि हम बीजेपी की तरह झूठे सपने नहीं दिखाते, विकास करते हैं. बीजेपी के साथ बसपा पर निशाना साधते हुए कहा कि उसने केवल हाथियों पर पैसा बर्बाद किया.