नई दिल्ली. आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद एक बार फिर भारत में पठानकोट जैसा हमला करने की फिराक में है. इसके लिए वह पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और इंडियन मुजाहिद्दीन (आईएम) की भी मदद ले सकता है. मिलिट्री इंटेलिजेंस रिपोर्ट के अनुसार यह संगठन उत्तर भारत में हमला कर सकता है.
 
कहा जा रहा है कि जैश के सहयोगी भारत के कुछ शहरों की रेकी में जुटे हैं. मिलिट्री इंटेलिजेंस की एक रिपोर्ट पंजाब सरकार को सौंपी गई है. इसमें संभावित हमले की साजिश रचे जाने का साफ तौर पर जिक्र किया गया है.
 
रिपोर्ट में कहा गया है कि नए हमले की साजिश जैश का कमांडर औवेश मोहम्मद रच रहा है. औवेश पाकिस्तान के ओकारा का रहने वाला है. रिपोर्ट में कहा गया है कि जैश ने पाकिस्तान में कुछ जगहों पर अपने नए ऑफिस शुरू किए हैं. 
 
बता दें कि इस साल 2 जनवरी की सुबह 6 पाकिस्तानी आतंकियों ने पठानकोट एयरबेस पर हमला किया. इसमें 7 जवान शहीद हो गए थे. एनकाउंटर 36 घंटे और तीन दिन कॉम्बिंग ऑपरेशन चला. हमले का मास्टरमाइंड जैश-ए-मोहम्मद का चीफ मौलाना मसूद अजहर है. अजहर को 1999 में कंधार प्लेन हाईजैक केस में पैसेंजरों की रिहाई के बदले छोड़ा गया था. भारत ने आतंकियों की उनके हैंडलर्स से बातचीत की कॉल डिटेल्स और उनसे मिले पाकिस्तान में बने सामानों के सबूत पड़ोसी देश को सौंपे हैं. हमले के बाद भारत-पाक फॉरेन सेक्रेटरी लेवल की 15 जनवरी को होने वाली बातचीत टल गई थी.