नई दिल्ली. जल्द ही डिफॉल्टर करोड़पति करदाताओं पर गाज गिरने वाली है. आयकर विभाग इस वित्त वर्ष से सभी श्रेणी के उन करदाताओं के नाम सार्वजनिक करने जा रहा है, जिन पर एक करोड़ रुपये या उससे अधिक राशि का टैक्स बकाया है. विभाग ने पिछले साल से टैक्स चूककर्ताओं (डिफॉल्टरों) के नाम प्रमुख समाचार पत्रों में प्रकाशित करवाना शुरू कर दिया है.
 
इसके तहत अब तक देश भर से इस तरह के 67 चूककर्ताओं के नाम उनके पते, संपर्क और पैन कार्ड संख्या के साथ प्रकाशित किए गए हैं. वहीं कपंनियों के मामलों में शेयरधारकों के नाम भी छपवाए गए हैं.
 
करोड़पति डिफॉल्टरों पर भी नकेल
 
एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि अब तक यह कार्रवाई लगभग 20-30 करोड़ रुपये की चूक करने वाले डिफॉल्टरों तक सीमित थी, लेकिन नई पहल से उन डिफॉल्टरों के नाम भी सामने आएंगे, जिन्होंने एक करोड़ रुपये या इससे अधिक राशि का कर नहीं चुकाया है.
 
31 जुलाई से पहले नाम सार्वजनिक
 
एक अधिकारी के मुताबिक बकाएदारों के नाम अगले साल 31 जुलाई से पहले सार्वजनिक किए जाएंगे. जिसमें व्यक्तिगत और कॉरपोरेट करदाता शामिल होंगे. इस संबंध में सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज ने एक आदेश भी जारी किया है.