नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने शारदा चिटफंड घोटाले में पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता मतंग सिंह की पत्नी मनोरंजना सिंह की जमानत याचिका पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया है. कोर्ट ने कहा है कि पहले कोलकाता हाईकोर्ट में जमानत अर्जी दाखिल की जाए.
 
मनोरंजना सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर कहा था कि वो पिछले साढ़े सात महीनों से हिरासत में हैं. हिरासत के दौरान उनकी दो बार सर्जरी भी हो चुकी है. ऐसे में खराब स्वास्थ्य के आधार पर उनको जमानत दे दी जाए. 
 
वहीं सीबीआई ने उनकी अर्जी का विरोध करते हुए कहा कि वो कभी भी जेल में नहीं रही हैं. जब से उन्हें हिरासत में लिया गया है तब से ही वह हॉस्पिटल में भर्ती हैं. 
 
दरअसल सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय साल 2014 से मनोरंजना से पूछताछ कर रहे हैं. 2013 में शारदा समूह के मालिक सुदीप्त सेन ने सीबीआई को एक चिट्ठी दी थी, जिसमें उन्होंने मनोरंजना समेत कई नामी लोगों पर घोटाले में शामिल होने के आरोप लगाए थे.
 
पूर्व पत्रकार मनोरंजना ने एक टीवी चैनल से अपने शेयर निकालकर शारदा ग्रुप में लगा दिए थे. सेन ने अपने पत्र में कहा था कि वह उन्हें एक केंद्रीय मंत्री की वकील पत्नी के पास ले गई थीं. मुलाकात कराने का मकसद एक सौदे पर सहमति बनाना था.