नई दिल्ली. कांग्रेस में राज्यसभा सीट के लिए घमासान शुरू हो गया है. वैसे बड़े जो मोदी लहर में 2014 का लोकसभा चुनाव हार गए थे वो राज्यसभा के जुगाड़ में जुटे हुए हैं. ऐसे नेताओं में कपिल सिब्बल और पी चिदंबरम जैसे बड़े नाम हैं जिन्हें पार्टी भी संसद में बोलता देखना चाहती है.
 
वहीं कांग्रेस के जो नेता रिटायर हो रहे हैं वो भी वापस आने के लिए जोर लगा रहे हैं. कांग्रेस के 15 राज्यसभा सदस्य जुलाई में रिटायर हो रहे हैं जिनमें अब पार्टी की राज्यों में घट गई ताकत के मद्देनजर 9 ही वापसी कर सकते है. सोनिया गांधी 26 मई तक इन 9 नामों को मंजूरी देंगी. नामाकंन की अंतिम तारीख 31 मई है. 
 
RS के दावेदार सोनिया से कर रहे हैं मुलाकात
कांग्रेस में सबसे ज्यादा लड़ाई सुरक्षित सीटों की है. बड़े नेता इन सीटों पर ही जोर लगा रहे हैं. कई नेताओ ने सोनिया गांधी से मुलाकात की है. महाराष्ट्र से आने वाली एक सीट के लिए नारायण राणे और पूर्व सीएम पृथ्वीराज चवहाण सोनिया से मिले. उनके अलावा अविनाश पांडे, सुशील शिंदे और मुकुल वासनिक भी दावेदार हैं.  
 
UP से ब्राहमण को राज्यसभा भेजना चाहती है कांग्रेस
उत्तर प्रदेश में 2017 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. कांग्रेस यहां से अपने 29 और अन्य 5 विधायकों के सहारे 1 सीट निकालना चाहती है. पार्टी इस राज्य से किसी ब्राहमण चेहरे को लाना चाहती है जिनमें सबसे ऊपर सतीश शर्मा का नाम है. कपिल सिब्बल भी यहीं से जोर लगा रहे हैं. सिब्बल की नजर बिहार पर भी है जहां वो लालू के समर्थन की आस लगाए बैठे हैं.
 
पंजाब से किसी नए चेहरे को भेजना चाहती है कांग्रेस
पंजाब में भी 2017 में चुनाव है. इसके मद्देनजर पार्टी किसी ऐसे चेहरे को भेजना चाहती है जिससे चुनाव में फायदा हो. पंजाब से कांग्रेस को एक सीट आनी है जिस पर अंबिका सोनी वापसी करना चाहती हैं लेकिन वो अब तक चार बार राज्यसभा आ चुकी हैं और कई लोग उनको फिर से लाने का विरोध कर रहे है. ऐसे में कोई नया चेहरा भी सामने आ सकता है. अश्विनी कुमार और पवन बंसल भी कतार में हैं. 
 
जयराम रमेश भी लगा रहे हैं जोर
छत्तीसगढ़ से एक सीट आएगी जिससे मोहसिना किदवई रिटायर हो रही हैं. कई लोकल और बाहरी नेता यहां नज़र लगाए हैं. अजित जोगी यहां से आना चाहते है जबकि पार्टी किसी बाहरी को टिकट दे सकती है. कर्नाटक से तीन राज्यसभा सीट आनी हैं जिनमें से एक ऑस्कर फर्नांडीस को मिलनी तय है जबकि दूसरी सीट पर जयराम रमेश जोर लगा रहे है. तीसरी सीट महिला को मिल सकती है. प्रदेश महिला अध्यक्ष लक्ष्मी हिबालकर का भी नाम आ रहा है.
 
महिला कांग्रेस अध्यक्ष शोभा औझा भी कतार में
मध्य प्रदेश से एक सीट आनी है जिस पर रिटायर हो रही विजय लक्ष्मी साधो के अलावा महिला कांग्रेस अध्यक्ष शोभा ओझा और वकील विवेक तनखा दावेदार हैं. उत्तराखंड की एक सीट से कई दावेदार है लेकिन मुख्यमंत्री हरीश रावत किसी लोकल को ही भेजने के पक्ष में हैं.