नई दिल्ली. संकल्प चैरिटेबल ट्रस्ट मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए होने वाले एग्जाम नेशनल एलिजिबिलिटि एंट्रेंस टेस्ट(एनईईटी) के अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने की तैयारी में है. ट्रस्ट के अध्यक्ष डॉक्टर गर्ग ने इंडिया न्यज़ के सामने इस बात का खुलासा किया है.
 
डॉक्टर गर्ग ने कहा है कि अध्यादेश को चुनौती देने के लिए ट्रस्ट मंगलवार की शाम तक या बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करेगा. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट का पिछला आदेश संकल्प ट्रस्ट की याचिका पर ही आया था. 
 
क्या है मामला ?
 
कोर्ट ने आदेश दिया था कि देश के सभी निजी और सरकारी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस और बीडीएस में प्रवेश के लिए एक कॉमन टेस्‍ट यानी नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट (NEET) इसी वर्ष से लागू होगा. इसके बाद राज्य के बोर्ड अलग से कोई परीक्षा नहीं आयोजित कर सकेंगे. इस फैसले को एक साल तक रोकने के लिए केंद्र सरकार ने एक अध्यादेश लाया था, जिसे मंगलवार को राष्ट्रपति की भी मंजूरी मिल गई थी. संकल्प ट्रस्ट इसी अध्यादेश का विरोध कर रहा है.