नई दिल्ली. पूर्व पुलिस अधिकारी किरण बेदी ने कहा कि वह पुडुचेरी के उपराज्यपाल के रूप में संविधान की रक्षा करेंगी. उन्होंने इस पद के लिए भरोसा जताने के लिए सभी को धन्यवाद दिया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और रेलमंत्री सुरेश प्रभु के अलावा कई अन्य लोगों ने बेदी को इस पद के लिए शुभकामनाएं दी. 
 
बेदी ने ट्वीट किया, “यह उन सभी के लिए है, जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया, मुझे सिखाया, बड़ा किया, शिक्षित किया, मुझे समय दिया. धन्यवाद.” उन्होंने अपनी नई जिम्मेदारी की लिए कहा, “किसी सरकार के हरेक विभाग को काम करना चाहिए.” 

 
बेदी के मित्र और अब राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी बन चुके दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उन्हें शुभकामनाएं दी. केजरीवाल ने ट्वीट किया, “किरण दीदी को इस नई भूमिका के लिए मेरी शुभकामनाएं.” 

 
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया, “नई जिम्मेदारी के लिए शुभकामनाएं.” 

 
प्रभु ने भी एक ट्वीट के जरिए बेदी को बधाई दी. उन्होंने लिखा, “पुडुचेरी का उपराज्यपाल बनने के लिए किरण बेदी को बधाई. पुलिस अधिकारी के रूप में किए गए महान कार्य को सभी याद करते हैं. शुभकामनाएं.”

 
कौन है किरण बेदी
बता दें कि किरण बेदी 1972 में भारतीय पुलिस सेवा की पहली महिला अधिकारी बनी थीं. वह दिल्ली की तिहाड़ जेल में पुलिस महानिरीक्षक (कारागार) सहित कई प्रमुख पद संभाल चुकी हैं. एशिया की सबसे बड़ी जेलों में से एक में उनके काम के कारण उन्हें जन सेवा के लिए रेमन मैगसेसे पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. बाद में उन्होंने लोकपाल विधेयक के लिए चलाए गए आंदोलन में 2011 में सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे और अरविंद केजरीवाल के साथ भ्रष्टाचार के खिलाफ शुरू किए गए आंदोलन में हिस्सा लिया था. लेकिन फरवरी 2015 में दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले वह बीजेपी में शामिल हो गई थीं और उन्हें पार्टी ने मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया था. लेकिन बीजेपी दिल्ली विधानसभा चुनाव हार गई थीं.