नई दिल्ली: बिजली की बढ़ती डिमांड और पॉवर कट के मसले पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बिजली कंपनियों को ठेठ अंदाज में चेतावनी दी. उन्होंने कहा कि दिल्ली में लोग बिजली कटौती से परेशान हैं और बिजली कंपनियां लोकल फॉल्ट का बहाना बना रही हैं. अगर ये सब ठीक नहीं हुआ तो डंडा दिखाने की जरूरत पड़ जाएगी, हमारे पास न तो डंडों की कमी हौ आर न ही साइज की. 
 
इस मामले पर नजर रखे हुए हैं पावर मिनिस्टर
केजरीवाल ने आगे कहा कि दिल्ली में कई दिनों से पॉवर कट चल रहा है. मैं दो दिन से इसके उपर नजर बनाए हुए हूं और खास तौर से बीएसइएस वाले ईलाकों में ज्यादा पॉवर कट हो रहा है. केजरीवाल ने कहा है कि बीएसइएस से कम टाटा वाले ईलाकों में कम पॉवर कट हो रहा है. उन्होंने कहा कि पॉवर मिनिस्टर ने भी इस मामले पर समीक्षा बैठक की थी. हमारे पास हर रोज जो शिकायते आ रही हैं हम उन नजर बनाए हुए हैं और तुरंत समाधान की कोशिश में लगे हुए हैं. 
 
2 घंटो में ठीक हो पॉवर कट
केजरीवाल ने कहा कि हमने मंगलवार को बिजली कंपनियों की मीटिंग बुलाई है. हमने डीआरसी को नोटिस दिया है. दिल्ली सरकार ने कहा है कि किसी भी ईलाके में अनशड्यूल पॉवर कट होता है तो दो घंटो में उसे ठीक करना होगा नहीं तो वहां के लोगों को मुआवजा देने को तैयार रहें. इनकी जवाबदेही तय करना जरूरी है. केजरीवाल ने कहा कि मैं रात भर लोगों के फोन उठा-उठाकर परेशान हो गया हूं. 
 
अच्छे से डंडा दिखाने की जरूरत
केजरीवाल ने कहा कि हमने 15 साल पहले बिजली को प्राइवेट इसलिए नहीं की थी कि हर साल बिजली के दाम बढ़ें. हमारी सरकार आने के बाद हमने बीजली के दाम बढ़ने नहीं दिए. साथ बिजली कंपनियों की जवाबदेही तय करने की जरूरत है. ये लोग कह देते हैं कि लोकल फॉल्ट हो गया. इंजीनियरिंग में तय हो कि फॉल्ट क्यों हो रहा है? इन लोगों को अच्छे से डंडा दिखाने की जरूरत है.