नई दिल्ली. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 25वीं पुण्यतिथि पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व उपाद्यक्ष राहुल गांधी ने उनकी समाधि वीर भूमि जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी. इस दौरान प्रियंका वाड्रा व राबर्ट वाड्रा भी मौजूद रहे. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी व पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने भी वीर भूमि जाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. 
 
बता दें कि श्रीपेंरबदूर में एक आत्मघाती हमले में राजीव गांधी की हत्या कर दी गई थी. उस समय लोकसभा चुनाव का दौर था राजीव गांधी की मीटिंग 21 मई को श्रीपेरंबदूर में तय थी. श्रीपेरंबदूर में रैली की गहमागहमी थी. राजीव गांधी के आने में देरी हो रही थी. बार-बार ऐलान हो रहा था कि राजीव किसी भी वक्त रैली के लिए पहुंच सकते हैं.
 
जब राजीव गांधी रैली में पहुंचे तो उनके दिखने आई भीड़ में से एक महिला ने राजीव से मिलना चाहा. एक महिला सब इंस्पेक्टर ने उसे दूर रहने को कहा, पर राजीव गांधी ने उसे रोकते हुए कहा कि सबको पास आने का मौका मिलना चाहिए. आत्मघाती महिला नलिनी ने राजीव गाँधी को माला पहनाई, और उनके पैर छूने के बम का रिमोट दबा दिया. जिसके बाद दोनों के चिथड़े उड गए.