देहरादून. उत्तराखंड के चकराता गांव के सिलगुर मंदिर में दलितों का प्रवेश प्रतिबंधित है. आज बीजेपी सांसद तरुण विजय दलितों को मंदिर में प्रवेश कराने पहुंचे तो उन्हें ग्रामीणों के गुस्से का सामना करना पड़ा.
 
राज्य सभा सांसद तरूण विजय के साथ मारपीट की गई. जिसमें सांसद को गंभीर रुप से घायल हो गए. बीजेपी सांसद के साथ कई दलित नेता भी घायल हुए हैं.  तरुण विजय समेत सभी घायलों को चकराता के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. गुस्साये ग्रामीणों ने सांसद के काफिले की गाडियों में भी तोड़-फोड़ की.  
 
वहीं इस घटना की उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत ने कड़े शब्दों में निंदा की है. रावत ने गढ़वाल के कमिश्नर को मामले की जांच करने का आदेश दिया है. इस दौरान सीएम रावत ने कहा कि ऐसी घटनाएं बिलकुल बर्दास्त नहीं की जाएंगी और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.