नई दिल्ली. असम में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तय जीत और पश्चिम बंगाल और केरल उपस्थिति दर्ज कराए जाने से पार्टी कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है. उन्होंने मिठाइयां बांटकर और आतिशबाजी कर अपने उत्साह का इजहार किया. वहीं, कांग्रेस कार्यालय में निराशा है. केरल और असम में पार्टी को हार का सामना करना पड़ा है, जहां वह सत्ता में थी.
 
विधानसभा चुनावों में पार्टी के शानदार प्रदर्शन से खुश पार्टी कार्यकर्ता सुबह से ही बीजेपी कार्यालयों में पहुंचने लगे थे. रूझान मिलने के साथ ही आतिशबाजी और ढोल नगाड़ों की आवाज सुनाई देने लगी. समर्थक और पार्टी कार्यकर्ता इसे पार्टी के लिए ‘ऐतिहासिक दिन’ बताते हुए जमकर नाचे. 
 
BJP में खुशी
बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, “मैं सभी पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई देना चाहता हूं, क्योंकि हम असम में सरकार बनाने जा रहे हैं. पहले पूर्वोत्तर और दक्षिण में हम नहीं थे, लेकिन अब हम इन दोनों क्षेत्रों में भी प्रवेश कर रहे हैं.” पार्टी प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा, “हम असम के जरिये पूर्वोत्तर में प्रवेश करेंगे. हमने केरल में भी खाता खोल लिया है.” पार्टी कार्यकर्ता इस मौके पर एक-दूसरे को बधाई देते और मिठाइयां बांटते नजर आए. 
 
कांग्रेस में उदासी
कांग्रेस कार्यालय में उदासी नजर आई. पार्टी नेता राज्य विधानसभा चुनावों की हार को तवज्जो नहीं देते दिखे. कांग्रेस नेता पी.सी. चाको ने कहा, “कांग्रेस ने बुरे दौर का सामना किया है, लेकिन फिर उसने शानदार तरीके से वापसी की है.”