गुवाहाटी: असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई ने गुरुवार को विधानसभा चुनाव में अपनी हार स्वीकार करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी विधानसभा में रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी. गोगोई ने गुवाहाटी में अपने निवास स्थान पर मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, “हम जनता के जनादेश को स्वीकार करते हैं. मैं असम के लोगों का धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने सेवा करने के लिए तीन कार्यकालों का मौका दिया. अब लोग हमें विपक्ष में बैठाना चाहते हैं और एक रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाता देखना चाहते हैं और मैं इसके लिए भी उन्हें धन्यवाद देता हूं.”
 
उन्होंने कहा, “यह स्वाभाविक है कि चुनाव के नतीजों को लेकर अहसास अच्छा नहीं है लेकिन मैं हताश नहीं हूं. लोकतंत्र में आपको जनता के जनादेश को स्वीकार करना होगा और हमने इसे स्वीकार कर लिया है. हम रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेंगे.” उन्होंने कहा, “मैं लोगों का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने कांग्रेस को पूरी तरह से नहीं छोड़ा. हो सकता है कि हममें कुछ कमियां रह गई हों या फिर हमने जितना किया, लोग हमसे उससे अधिक की अपेक्षा रख रहे हों.” 
 
गोगोई ने कहा कि वह पहले ही इस जीत के लिए सर्वानंद सोनोवाल को बधाई दे चुके हैं. उन्होंने कहा, “यह उनके लिए बहुत बड़ी जीत है. इस बार बीजेपी, एजीपी और बीपीएफ एक साथ आए और चुनाव में जीत दर्ज की.” गोगोई ने कहा कि पार्टी अपनी कमियों और खामियों का विश्लेषण करेगी.