देहरादून. उत्तराखंड प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष अजय भट्ट ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री हरीश रावत उनकी हत्या कराना चाहते हैं. वहीं मुख्यमंत्री कार्यालय ने इन आरोपों का खंडन किया है. कार्यालय ने कहा कि भाजपा नेता मुख्यमंत्री के खिलाफ गंभीर आरोप लगाकर लोकतांत्रिक ढंग से चुनी सरकार को गिराने की अपनी नाकाम साजिश से जनता का ध्यान हटाना चाहते हैं.
 
मंगलवार देर शाम जारी एक बयान में भट्ट ने आरोप लगाया कि सोमवार को उनके द्वारा ली जा रही एक समीक्षा बैठक में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हुडदंग किया था. इसके विरोध में वह कल रानीखेत में उपजिलाधिकारी कार्यालय में धरने पर बैठे थे जहां रावत ने कथित गुंडे भेज दिये.
 
भट्ट ने आरोप लगाया कि प्रदेश में राजनीतिक संकट के दौरान हरीश रावत की कथित करतूतों को उजागर करने के लिये वह भाजपा से बदला लेना चाहते हैं. इसलिये वह उनकी हत्या कराना चाहते हैं. उन्होंने दावा किया कि भाजपा इन बातों से डरने वाली नहीं है और मुख्यमंत्री और उनके साथियों को यह समझना चाहिये कि वह उनकी सरकार के कथित भ्रष्टाचार को बेनकाब करना जारी रखेगी.
 
उधर, इन आरोपों को खारिज करते हुए रावत के मीडिया सलाहकार सुरेंद्र कुमार ने कहा कि विधायकों को खरीदने के लिये करोडों रूपये खर्च करने के बाद भी बीजेपी राज्य सरकार को गिराने में विफल रही है. जिसके कारण गहरी हताशा के चलते भाजपा नेता मुख्यमंत्री के खिलाफ एक बेबुनियाद और सनसनीखेज आरोप लगा रहे हैं.