बिहार. गया में आदित्य सचदेवा हत्याकांड मामले में आरोपी रॉकी की मां और जेडीयू एमएलसी मनोरमा देवी ने गया कोर्ट में सरेंडर कर दिया है. गया कोर्ट ने मनोरमा देवी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. पुलिस ने हत्या के आरोपी रॉकी को बोधगया के डेल्हा से गिरफ्तार कर लिया है. वहीं पुलिस पूछताछ में रॉकी ने हत्या की बात कबूल की है, साथ ही उसके पास से हत्या में इस्तेमाल किया गया विदेशी पिस्टल भी बरामद हुई है. 
 
घर से शराब हुई थी बरामद
रॉकी की तलाश में पुलिस ने जब उसकी मां मनोरमा देवी के घर छापेमारी की थी तो वहां से छह शराब की बातलें बरामद हुई थीं. इस मामले में रॉकी और उसके पिता बिंदी यादव मुख्य आरोपी बनाए गए थे और गया के रामपुर थाना में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. बाद में घर मनोरमा देवी के नाम पर होने की जानकारी मिलने पर उनका नाम भी इस केस में जोड़ा गया था. 
 
मनोरमा देवी को पार्टी से किया निलम्बित
जेडीयू विधान पार्षद मनोरमा देवी को पार्टी से निलम्बित कर दिया गया है. जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह ने बताया कि मनोरमा देवी के घर से शराब बरामद हुई है. यह राज्य में लागू शराबबंदी कानून के खिलाफ है. सिंह ने कहा कि मनोरमा देवी से पार्टी ने इस बाबत स्पष्टीकरण मांगा है. बता दें कि राज्य सरकार ने बिहार में गत 5 अप्रैल से पूर्ण शराबबंदी लागू कर रखी है. ऐसे में अपने ही विधान पार्षद के घर से शराब बरामदगी को जेडीयू ने गंभीरता से लिया है.
 
टेनी यादव ने गया कोर्ट में किया सरेंडर
बिहार के गया में आदित्य सचदेव मर्डर मामले में रॉकी यादव के चचेरे भाई टेनी यादव ने भी गया कोर्ट में सरेंडर कर दिया था. टेनी को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. जिस वक्त आदित्य की हत्या हुई थी, टेनी रॉकी के साथ था. इस मामले में रॉकी और उसकी मां के बॉडीगार्ड राकेश को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. 
 
क्या कहा पुलिस ने?
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक ने बताया कि रॉकी को गया जिले के मस्तपुरा गांव में बने उसके पिता बिंदी यादव के मिक्सर प्लांट से गिरफ्तार किया गया. रॉकी को अपराध के लिए इस्तेमाल की गई पिस्तौल के साथ पकड़ा गया. उन्होंने बताया कि रॉकी अपना अपराध स्वीकार कर लिया है.
 
क्या है मामला?
गया में मनोरमा का बेटा रॉकी यादव अपनी नई लैंड रोवर कार से कहीं जा रहा था. एक स्विफ्ट कार उसकी लैंड रोवर के आगे चल रही थी. रॉकी अपनी गाड़ी को उस कार से आगे ले जाने की कोशिश कर रहा था, लेकिन स्विफ्ट कार चला रहा ड्राइवर सामने जगह न होने की वजह से साइड नहीं दे पाया था. इसके बाद रॉकी ने किसी तरह स्विफ्ट को ओवरटेक करके रोक लिया था. स्विफ्ट कार में बैठे लड़कों और रॉकी के बीच बहस हुई थी. इसके बाद रॉकी ने स्विफ्ट पर गोली चला दी. इसमें आदित्य सचदेवा नाम के लड़के की मौत हो गई. इसके बाद रॉकी फरार हो गया था. पुलिस ने उसके पिता बिंदी यादव को बेटे को भागने में मदद करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था. इसके बाद रॉकी को भी गिरफ्तार कर लिया गया.