नई दिल्ली. भारत सोलर एनर्जी और दूसरे नवीकरणीय ऊर्जा विकल्प के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रहा है. इसी क्रम में देश में इस सेक्टर से निवेश भी बढ़ रहा है. रेटिंग एजेंसी अर्नस्ट एंड यंग की एक रिपोर्ट के अनुसार अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में देश के आकर्षण संबंधी सूचकांक में भारत तीसरे स्थान पर हैं. इसमें पहले और दूसरे स्थान पर क्रमश: अमेरिका तथा चीन का फिर से कब्जा हुआ है.
 
रेटिंग एजेंसी की एक रिपोर्ट के अनुसार, इसका मुख्य कारण भारत सरकार का अक्षय ऊर्जा पर जोर के साथ नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा परियोजनाओं का समय पर क्रियान्वयन है.
 
अर्नस्ट एंड यंग के बयान के मुताबिक सूचकांक में उभरते बाजारों की हिस्सेदारी आधी है. वहीं शीर्ष 30 देशों में चार अफ्रीकी देशों को जगह मिली है. एक दशक पहले केवल चीन तथा भारत इस मामले में आकर्षक गंतव्य थे और अक्षय उर्जा निवेश के मामले में विकसित देशों से प्रतिस्पर्धा कर रहे थे. चिली, ब्राजील तथा मैक्सिको सूचकांक में उपर आये हैं जबकि जर्मनी तथा फ्रांस की रैंकिंग घटी है.